Bollywood, hindi, movie, padmavati, padmaavat, karni sena, rajput, censor board, dipika padukon, sanjay lila bhansali

पद्मावती से पद्मावत – किसका फायदा किसका नुकसान

आखिरकार 25 जनवरी को रिलीज हो गई – बॉलीवुड की सबसे विवादास्पद फिल्मों में से एक ‘पद्मावत’| सेंसर बोर्ड ने कुछ कटौती के साथ फिल्म को अपनी मंजूरी भी दे दी है और ‘ पद्मावती ‘ से ‘पद्मावत’ नाम बदलने का आदेश दिया है| फिल्म में किये गए कुछ बदलावों के बारे में स्पष्ट और ज्यादा हम लोगों में से कोई भी नहीं जनता सिवाय शीर्षक परिवर्तन के। फिल्म, बहाद्दुर महिलाओं की कहानी दर्शाती है, रानी पद्मिनी के रूप में दीपिका का चेहरा मुख्य अवतार है ।

padmavat on amazon prime, padmavatimovie on amazon prime

करनी सेना के लोगों के एक समूह ने फिल्म का विरोध किया था और उस पर प्रतिबंध चाहते थे| फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली की राजस्थान में शूटिंग के दौरान धक्का-मुक्की हुई थी । मीडिया के अनुसार करनी सेना ने फिल्म को रिलीज़ न करने की खुलेआमधमकी दी थी – अफवाह है कि इस फिल्म में रानी पद्मावती और आक्रमणकारी अल्लाउदीन खिलजी के बीच प्रेम-प्रसंग बताया गया है | लेकिन सच का पता तो फिल्म देखने के बाद पता चल हि जायेगा| फिल्म में राजपूतों का गौरव बताया गया है| यह फिल्म दानव जैसे खिलजियों के साथ राजपूतों के टकराव की कहानी बयां करती है|

मुझे ख़ुशी है की रानी पद्मावती के ऐतिहासिक घटना के साथ छेड़ छाड़ करने पर सारे लोग बहिस्कार कर रहे है. लेकिन वर्तमान भारत माता के साथ जो लोग आज यानि के वर्तमान में छेड़ छाड़ हो रही है उसके लिए भी हम ऐसे ही साथ मिल कर विरोध करे तो आने वाले समय में हमारे इतिहास, वर्तमान और भविष्य के साथ छेड़ छाड़ करने की किसी की हिम्मत नहीं होगी.”

सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन और एक विशेष सलाहकार पैनल के साथ डिस्कशन के बाद यह फैसला किया गया कि इस फिल्म के लिए यू/प्रमाण पत्र देगा लेकिन शीर्षक परिवर्तन सहित पांच संशोधनों के अधीन है ।

मुख्य समस्या मानसिकता है। लोगों को बदलने की जरूरत है। परिवर्तन पर मजबूर नहीं किया जा सकता है। हम सब एक उन्नत समाज का हिस्सा हैं।

लेकिन इन सब बातों के बाद भी फिल्म तो रिलीज़ हो गयी, लेकिन फिल्म की टिकिट की कीमतों पर भी एक नजर : वेब सिनेमा ने शाम 6:45 और 10 बजे के शो की टिकिट 1150 रुपये की है और आपको जानकर हैरानी होगी की दोनों शो हाउसफुल हो गए हैं। मुंबई की बात करें, तो पीवीआर वर्सोवा में 1230 और 1530 रुपये की कीमत की टिकिट वाले शो हाउसफुल हो गए हैं|

यानि आप समझ ही गए होंगे की लड़ाई झगडे से फायदा किसका हुआ !!!! धन्यवाद !!!!

Sabne movies dekhi aur enjoy kiya aur bhul gaye !!! Ab naya kya hai?

Comments

Leave a Reply